Home hindi अतिक्रमण हटाओ के नाम पर छोटे व्यापारियों के उत्पीड़न पर विभिन्न संगठन धमके डीएम ऑफिस

अतिक्रमण हटाओ के नाम पर छोटे व्यापारियों के उत्पीड़न पर विभिन्न संगठन धमके डीएम ऑफिस

0
अतिक्रमण हटाओ के नाम पर छोटे व्यापारियों के उत्पीड़न पर विभिन्न संगठन धमके डीएम ऑफिस

‘फुटपाथ दुकानदारों की जबरन बेदखली कोर्ट ‌के दिशा -निर्देशों की खुली अवहेलना’
फुटपाथ व्यवसायियों को जबरन हटाने का किया विरोध, डीएम को ज्ञापन सौंपा
देहरादून। विभिन्न संगठनों ने पीड़ित रेहड़ी ,पटरी ,फुटपाथ व्यवसायियों की समस्या को लेकर जिला प्रशासन कार्यालय में दस्तक दी। और रेहडी़,पटरी ,फुटपाथ व्यवसायियों‌ की समस्या पर ज्ञापन दिया। ज्ञापन में स्पष्ट किया गया है‌ कि रेहड़ी ,पटरी ,फुटपाथ व्यवसायियों को जबरन बेदखली सर्वोच्च न्यायालय एवं उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ‌के दिशा निर्देशों की अवहेलना है। जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष विभिन्न राजनैतिक एवं सामाजिक संगठनों ने उपजिलाधिकारी शालिनी नेगी को जिलाधिकारी के नाम सम्बोधित ज्ञापन दिया तथा ज्ञापन में अविलंब उत्पीड़न रोकते हुऐ उन्हें वैन्डरजोन घोषित होने तक रोजगार की अनुमति प्रदान करने‌ का अनुरोध किया ।
इस अवसर पर प्रतिनिधिमण्डल ने आरोप लगाया कि जिला प्रशासन, नगरनिगम तथा पुलिस की टीमें लाईसेंसधारियों तथा फुटपाथ के तहत रजिस्टर्ड अन्य छोटे व्यवसायियों का सामान भी जब्त कर रही तथा उनसे जबरन चालान वसूली‌ हो रही है। प्रतिनिधि मण्डल ने कहा कि छोटे व्यवसायी रोजगार न होने के चलते भुखमरी के‌ कगार पर हैं । जिलाधिकारी ने प्रतिनिधिमण्डल को आश्वस्त किया कि शीध्र ही वे अपने स्तर से छोटे व्यवसायियों के हित में कदम उठायेंगी। ज्ञापन में कहा गया कि इन्वेस्टर समिट की आड़ में नगरनिगम/जिलाप्रशासन ने यह कह कर रेहड़ी ,पटरी वालों को हटाया था कि यातायात व्यवस्था एवं वीआईपी मूवमेंट के चलते फिलहाल अपना रोजगार समेट लें , किन्तु अब इन छोटे स्तर पर रोजगार कर रहे लोगों का उत्पीड़न किया जा रहा है।
इस अवसर पर सीपीएम सचिव अनन्त आकाश ,सपा के प्रदेश महामंत्री अतुल शर्मा, भीम आर्मी के महानगर अध्यक्ष आजम खान,आयूपी के अध्यक्ष नवनीत गुसाई ,आन्दोलनकारी परिषद के सुरेश कुमार ,चिन्तन सकलानी, राजेन्द्र पुरोहित, बालेश बबानिया ,चेतना आन्दोलन के शंकर गणेश ,बार काउंसिल उत्तराखण्ड के सदस्य ‌एडवोकेट रंजन सोलंकी ,नेताजी संघर्ष समिति के प्रभात डण्डरियाल ,राजेश रावत ,अमर सिंह आदि प्रमुख थे।
सीआईटीयू के महामंत्री लेखराज, जनवादी महिला समिति की प्रांतीय उपाध्यक्ष इन्दु नौडियाल ,किसान सभा के अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह ,सजवाण ,इफ्टा के हरिओम पाली ,एटक के एस एस रजवार ,जेडीएस के अध्यक्ष हरजिन्दर सिंह ,पीपुल्स फोरम के जयकृत कण्डवाल ,एआईएलयू के संयोजक एडवोकेट शम्भू प्रसाद मंमगाई ,एस एफ आई के प्रदेश अध्यक्ष नितिन मलेठा ,भीम आर्मी के प्रदेश उपाध्यक्ष उमेश कुमार ,अम्बेडकर युवा समिति के अध्यक्ष बंटी कुमार सूर्यवंशी ने रेहड़ी, पटरी, फुटपाथ व्यवसायियों ‌कि मांगों का समर्थन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here