Home News अब तो बकायेदारों को करनी पड़ेगी जेब ढीली, ऐसे किया जाएगा बिजली बिल वसूल; हो गई तैयारी – myuttarakhandnews.com

अब तो बकायेदारों को करनी पड़ेगी जेब ढीली, ऐसे किया जाएगा बिजली बिल वसूल; हो गई तैयारी – myuttarakhandnews.com

0
अब तो बकायेदारों को करनी पड़ेगी जेब ढीली, ऐसे किया जाएगा बिजली बिल वसूल; हो गई तैयारी –  myuttarakhandnews.com

Latest posts by Sapna Rani (see all)देहरादून। प्रदेश में बिजली बिल वसूली को ऊर्जा निगम व्यापक अभियान चलाएगा। सभी सब स्टेशन में मेगा कैंप लगाए जाएंगे। साथ ही आनलाइन भुगतान के लिए उपभोक्ताओं को प्रेरित किया जाएगा। बड़े बकायेदारों को नोटिस भेजने के साथ ही कनेक्शन काटने की भी तैयारी है। इसके अलावा प्रत्येक उपभोक्ता का फोन नंबर जुटाकर ऊर्जा निगम एसएमएस के माध्यम से भी बिल जारी करेगा।वित्तीय वर्ष 2023-24 के अंतिम तीन माह में राजस्व वसूली तेज करते हुए ऊर्जा निगम अभियान चलाने जा रहा है। गुरुवार को बल्लीवाला के निकट स्थित ऊर्जा निगम मुख्यालय में प्रबंध निदेशक अनिल कुमार ने बैठक की। जिसमें राजस्व वसूली के कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने आगामी प्रयासों को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए।बैठक में निदेशक (वित्त), निदेशक (परियोजना) व निदेशक (परिचालन) समेत अन्य अधिकारियों ने प्रतिभाग किया। प्रबंध निदेशक ने खंडवार सभी अधिकारियों को राजस्व लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत वसूली व सभी उपखंडों में मेगा कैंप लगाने व उसका प्रचार करने को कहा है। बकाया बिल वालों को नोटिस जारी करने और भुगतान न होने पर कनेक्शन काटने के निर्देश दिए हैं।अधिकारियों को किया गया निर्देशितसभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि व्यक्तिगत रूप से संबंधित सरकारी विभागों के अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित कर राजस्व की वसूली सुनिश्चित कराएंगे। अपरिहार्य परिस्थितियों को छोड़कर सभी अधिकारी अपने-अपने कार्यालय में उपस्थित रहकर राजस्व वसूली कराएंगे और बेहतर प्रदर्शन करने वाले मंडलों, खंडों एवं उपखंडों को सम्मानित किया जाएगा।उपभोक्ताओं को ऊर्जा निगम की आनलाइन सेवाओं के प्रति जागरूक करते हुए आनलाइन माध्यम से बिल भुगतान को प्रेरित करेंगे। प्रबंध निदेशक ने उपभोक्ताओं को एसएमएस से बिल उपलब्ध कराने के लिए सभी फील्ड अधिकारियों को अपने अधीनस्थ क्षेत्र के समस्त विद्युत उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर एकत्र करने के लिए व्यापक अभियान चलाने के निर्देश दिए। इस बैठक में दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुक्रम में लक्ष्यों के सापेक्ष की गई वसूली की प्रगति एक सप्ताह बाद दोबारा समीक्षा की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here