Home News रामलला प्राण प्रतिष्ठा- कांग्रेस ने किया सुन्दरकाण्ड और भंडारा

रामलला प्राण प्रतिष्ठा- कांग्रेस ने किया सुन्दरकाण्ड और भंडारा

0
रामलला प्राण प्रतिष्ठा- कांग्रेस ने किया सुन्दरकाण्ड और भंडारा

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रदेश महिला कांग्रेस ने अयोध्या मेें श्री राम की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर सुन्दरकाण्ड पाठ एवं भण्डारे का आयोजन किया गया। इस अवसर पर महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बढ़चढ़कर कार्यक्रम में भागीदारी की। इसके अलावा प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी महिला कांग्रेस द्वारा इस सुन्दकाण्ड पाठ का आयोजन किये गये। इस अवसर पर महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ज्योति रौतेला ने कहा कि रामजन्म भूमि के लिए चारों पीठों के शंकराचार्यों के नेतृत्व में सन्त समाज ने लम्बे समय तक लड़ाई लडी इस लडाई को संतों ने अपना र्स्ववश्व अपर्ण कर जन मानस को साथ लेकर जमीनी स्तर पर और न्यापालिका के स्तर पर भी लड़ा गया और अन्त में मा. सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर सरकारी धन से दिब्य भब्य रामलला को मन्दिर बन रहा है।
उन्होंने कहा कि इस लड़ाई में आजादी के पूर्व व बाद से ही संघर्ष की एक लम्बी कहानी है 22-23 दिसम्बर 1949 की मध्य रात्रि को ही पूर्व प्रधानमंत्री स्व. पंडित जवाहर लाल नेहरू के समय वहां पर भगवान रामलला विराजमान हो गये थे और 1950 में सर्वोच्य न्यायालय में सरकार ने हल्पनामा दाखिल कर कहा कि वहां पर रामलला विराजमान है और इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के निर्देश पर रामलला के बन्द ताले को खोलने का काम किया और उन्हीे के निर्देश पर वहां पर रामलला की पूजा अर्चना प्रारम्भ हुई।

उन्होंने कहा कि बाद में अन्य संगठनों ने भी राम मन्दिर निर्माण की मांग का समर्थन किया। विवाद होने पर पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी ने कहा था कि देश का सर्वोच्च न्यायालय जो भी निर्णय करेगा पूरा देश उसका सम्मान करेगा और हमें गर्व है कि न्यायालय के फैसले का पूरा देश सम्मान कर रहा है और आज प्राण प्रतिष्ठा का उत्सव मना रहा है लेकिन यह उत्सव सौ गुना सुन्दर हो सकता था अगर चारों पीठों के शंकराचार्यों एवं धर्माचारियों और शास्त्रों के सुझावों, मार्गदर्शन के अनुसार सम्पन्न होता।
उन्होंने कहा कि आज भगवान राम के नाम पर भी राजनीति हो रही है और मंन्दिर निर्माण को श्रेय लेने का जो कुत्सित प्रयास हो रहा है जो कि निंदनीय हैै। क्योेकि आस्था व्यक्तिगत विषय है और भगवान राम के प्रति उनके भगतों की आस्था युगों पुरानी है और सनातन धर्म को मानने वाले हर वर्ष भगवान राम के अयोध्या आगमन पर दीपावली को उत्साह पूर्वक मनाया जाता है राम नवमी की शोभा यात्राऐं भी स्वस्फूर्त तरीके से निकाली जाती है और यह सब सदियों से होता आया है।
इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा, पूर्व मंत्री डॉ. हरक सिंह, हीरा सिंह बिष्ट, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, प्रदेश उपाध्यक्ष मथुरा दत्त जोशी, महामंत्री विजय सारस्वत, महिला कांग्रेस की प्रभारी परविन्दर कौर, मुख्य प्रवक्ता गरिमा माहरा दसौनी, गोदावरी थापली, अमरजीती सिंह, महानगर अध्यक्ष उर्मिला थापा, अलका पाल, शिवनी थपलियाल, निधि नेगी, माल्ती देवी, अनुराधा तिवाडी, पुष्पा पंवार, मीना रावत, मीना बिष्ट, परणिता बडौनी, शुशीला शर्मा, प्रतिमा सिंह, अनिता निराला, रेखा ढ़िगरा, गायत्री चौहान, संगीता साधन, पिया थापा आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here