Home hindi सामाजिक न्याय का अलख जगाने वाले विलक्षण योद्धा थे कर्पूरी ठाकुर

सामाजिक न्याय का अलख जगाने वाले विलक्षण योद्धा थे कर्पूरी ठाकुर

0
सामाजिक न्याय का अलख जगाने वाले विलक्षण योद्धा थे कर्पूरी ठाकुर

सामाजिक न्याय का अलख जगाने वाले विलक्षण योद्धा थे कर्पूरी ठाकुर

कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत ‘‘भारत रत्न’’ से नवाजना उत्कृष्ट उदाहरण – स्वामी चिदानन्द सरस्वती
उत्तरप्रदेश स्थापना दिवस पर राज्यपाल व मुख्यमंत्री को दी बधाई
ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने उत्तरप्रदेश के 75 वें स्थापना वर्ष के अवसर पर राज्यपाल श्रीमती आनन्दी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेशवासियों को शुभकामना दी। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश वास्तव में उत्तम प्रदेश है जो सप्तपुरी के प्रथम नगर अयोध्या, शिव की नगरी काशी और त्रिवेणी संगम को अपने गोद में लिये सनातन संस्कृति का शंखनाद कर रहा है। प्रभु श्री राम जी की प्राण प्रतिष्ठा वास्तव में इस दिव्य प्रदेश की इबारत के स्वर्णिम हस्ताक्षर है। स्वामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तरप्रदेश दिव्य भव्यता को प्राप्त कर रहा है।

स्वामी ने बिहार के 11 वें मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकूर के जन्मदिवस के अवसर पर भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुये कहा कि भारत सरकार उन्हें मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘‘भारत रत्न’’ से नवाज़ा जा रहा है, जो गौरवान्वित करने वाले पल है। स्वामी ने कहा कि कर्पूरी ठाकूर सामाजिक न्याय की अलख जगाने वाले विलक्षण योद्धा थे। उनकी 100 वीं जयंती पर भारत सरकार की ओर से भारत रत्न प्रदान करना वास्तव में सामाजिक न्याय का उत्कृष्ट उदाहरण है।
राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि बेटियों को शिक्षित करना और उनके प्रति समाज का नजरिया बदलना अत्यंत आवश्यक है इससे कन्या भ्रूण हत्या में कमी आयेगी। स्वामी ने कहा कि वर्तमान समय सभी पूर्वाग्रहों से उपर उठकर सभी के लिये समानता व सम्मान का वातावरण निर्मित करने का है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here