Home hindi यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 47 वां अपराधी गिरफ्तार

यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 47 वां अपराधी गिरफ्तार

0
यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 47 वां अपराधी गिरफ्तार




यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 47 वां अपराधी गिरफ्तार

स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में पकडे गये आरोपी पर घोषित था 50 हजार रूपये का ईनाम
देहरादून। एसटीएफ ने यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 47वें आरोपी को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है। स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में पकडे गये आरोपी पर 50 हजार रूपये का ईनाम घोषित था। बताया जा रहा है कि पिछले सात दिनों से उतराखंड एसटीएफ की टीम आरोपी की गिरफ्तारी के लिए जनपद अलीगढ़ उत्तर प्रदेश में छापेमारी कर रही थी। अपराधी का नाम कसान खान है जो मोहल्ला हुसैनी थाना रसूलपुर, जिला फिरोजाबाद, उत्तरप्रदेश का रहने वाला है। आरोपी कसान पर 50 हजार रूपये का इनाम घोषित था। STF की टीम आरोपी कसान को गिरफ्तार कर देहरादून पहुंची है जहां उससे पूछताछ कर जेल भेजा गया।
पुलिस अधीक्षक एसटीएफ चंद्र मोहन सिंह ने जानकारी देते हुये बताया कि यूकेएसएसएससी आयोग द्वारा स्नातक स्तरीय परीक्षा 2021, सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा, वन दरोगा ऑनलाइन भर्ती परीक्षा एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारी चयन परीक्षा 2016 में हुई धांधली को लेकर दर्ज अलग अलग 04 मुकदमों दर्ज थे। सभी मुकदमों में जो अपराधी अभी तक पकड़े नहीं जा सके हैं उनकी गिरफ़्तारी के लिए एसटीएफ लगातार प्रयास कर रही है ताकि इन भर्ती प्रकरणों में संलिप्त सभी दोषियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जा सके।
गौरतलब है कि स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में एसटीएफ ने 47वें अभियुक्त की गिरप्तारी की। इस परीक्षा की धांधली में 49 लोगों के नाम शामिल थे जिसमें से 47 को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एक आरोपी की गिरफ्तारी पर उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश पर रोक लगा दी गई है जबकि एक आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम लगातार दबिश दे रही है।
आरोपी कसान खान ने पूछताछ में बताया कि 2018 से R.M.S.कंपनी में बतौर पेपर पैकिंग, नूमेरिक टायपिंग और प्रिंटिंग मशीन में काम करता था और उसकी बहन की शादी फरवरी 2022 में होनी थी। अपने साथी कर्मचारी रूपेंद्र जायसवाल और सादिक मुशा के कहने पर उत्तराखंड में 4/5 दिसम्बर 2021 को होने वाले स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा के पेपर को 04 से 05 लाख रुपए के लालच में कंपनी के अंदर पेपर पैकिंग के दौरान अपने कपड़ों में छिपाकर बाहर लाकर रुपेंद्र जायसवाल और सादिक मूशा को दे दिया था। मामले में गिरफ्तार शुरू हुई तो वह पकड़े जाने के डर से आगरा,दिल्ली,अलीगढ़, अजमेर आदि स्थानों में भेष बदलकर रहता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here