Home hindi नशा मुक्त भारत अभियान” का उत्तराखंड में शुभारम्भ किया – my uttarakhand news

नशा मुक्त भारत अभियान” का उत्तराखंड में शुभारम्भ किया – my uttarakhand news

0
नशा मुक्त भारत अभियान” का उत्तराखंड में शुभारम्भ किया –  my uttarakhand news

अन्तर्राष्ट्रीयउत्तराखंड

Share0

Advertisement

देहरादून:- प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय ,देहरादून के मुख्य सेवाकेंद्र सुभाष नगर मे “नशा मुक्त भारत अभियान” का उत्तराखंड में शुभारम्भ किया गया। लेफ्टिनेंट जरनल गुरमीत सिंह जी ( महामहिम राज्यपाल, उत्तराखण्ड ) के द्वारा ब्रह्मकुमारीज के सभागार में किया गया |मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त करते हुए महामहीम राज्यपाल गुरमीत सिंह जी ने कहा कि ये जो गलत नशा है ड्रग्स का, इसने मानवता को झगझौर दिया है।जो लोग इन नशों का शिकार बन गए है, अंधकार की गलियों में हैं,उन्हें रोशनी दिखाना बहुत जरूरी है।उत्तराखंड को 2025 तक नशा मुक्त बनाने मे ब्रह्मकुमारिज के सहयोग से तीव्र गति से परिणाम प्राप्त होंगे। ब्रह्मकुमारिज के कार्यों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा मुझे बहुत खुशी है कि यह परिवार हमेशा ही समाज हित के लिए कार्य करता है और आज भी ये भारत को नशामुक्त बनाने का सुंदर संकल्प लिया है । उन्होंने कहा जिनके अंदर प्रभु का नशा है,उन्हें ये आर्टिफिशियल नशे लेने की आवश्कता नही होती। उत्तराखण्ड को नशा मुक्त बनाना चुनौती तो है, परंतु अगर इच्छा शक्ति,सेल्फ कंट्रोल,सेल्फ डिसिप्लीन का आह्वान करें तो उत्कृष्ठ परिणाम प्राप्त होंगे।जीवन सोच, विचार और धारणा ही तो है। आपकी सोच जो आपने सोचा है और संकल्पों में जो उतारा है इसमें आपको प्रभु की शक्तियां के योगदान से जरूर सफलता प्राप्त होगी।इस अवसर पर संस्था के मुख्यालय माउन्ट आबू से पधारे मेडिकल विंग के डायरेक्टर बीके राजयोगी बनारसी लाल शाह जी ने नशा मुक्त अभियान के उद्देश्य एवं लक्ष्य पर प्रकाश डालते हुए बताया कि 4 मार्च 2023 को ब्रह्मकुमारिज का भारत सरकार के सोशल जस्टिस वेलफेयर डिपार्टमेंट के साथ एमओयू साइन हुआ है।साथ ही उन्होंने कहा कि राजयोगी लाइफस्टाइल अपनाने से नशा मुक्त होने का 97% रिजल्ट रहा है।नशा मुक्त अभियान के तहत 7050 डिस्ट्रिक्ट्स में सेवाएं चल रही हैं। स्कूलों, कॉलेजों, यूनिवर्सिटी में 15 लाख लोगों को नशा मुक्त होने के लिए शिक्षित किया है। यदि छोटे बच्चों को भी इस प्रकार की शिक्षा दी जाए तो वो अपने घरों में, आस पास सबको सावधान कर समझाएंगे तो उनकी बातों से भी असर होगा। उत्तराखंड जो देव भूमि है,तीर्थ स्थान हैं यहां लोग व्यसन लें,नहीं। सरकार के साथ मिलकर के गांव गांव मे रैली से वा विशेष वैन जो बनाई है उसके माध्यम से नशा मुक्त अभियान को चलाएंगे। भारत को विश्व गुरु बनाना है तो पहले नशा मुक्त बनाना है।देहरादून में ब्रह्माकुमारीज सब-जोन की संचालिका राजयोगिनी बी के मंजू दीदी जी ने स्वागत भाषण द्वारा सभी का स्वागत किया।राजयोगिनी बीके मीना दीदी जी ने सभी को राजयोग के अभ्यास से गहन शांति वा शक्ति की अनुभूति कराई।कार्यक्रम के मंच का संचालन बी के सुशील भाई जी ने किया।

Share0

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here