Home hindi ईडी के छापे में सोना व नगदी बरामद,बैंक लॉकर का भी पता चला

ईडी के छापे में सोना व नगदी बरामद,बैंक लॉकर का भी पता चला

0
ईडी के छापे में सोना व नगदी बरामद,बैंक लॉकर का भी पता चला

ईडी ने कहा , बीरेंद्र सिंह कंडारी, बृज बिहारी शर्मा, किशन चंद के यहां ली तलाशी
ईडी ने विदेशी मुद्रा के अलावा अचल संपत्ति से जुड़े कई दस्तावेज बरामद
पूर्व मंत्री हरक सिंह के करीबी हैं ईडी के रडार पर
नई दिल्ली/उत्तराखण्ड। उत्तराखण्ड में ईडी के छापे में करोड़ों की नगदी,बैंक लाकर्स व सोना बरामद किया गया। और चल-अचल संपत्ति से जुड़े कागजात बरामद किए। इस मामले में काशीपुर से भाजपा नेता अमित सिंह को गिरफ्तार भी किया गया। गुरुवार की सांय 5 बजे ईडी ने छापे के बाबत आधिकारिक जानकारी दी। लेकिन इसमें कहीं भी पूर्व मंत्री हरक सिंह व आईएफएस सुशांत पटनायक का नाम नहीं लिया। ईडी ने बताया कि बीरेंद्र सिंह कंडारी, बृज बिहारी शर्मा, किशन चंद के यहां तलाशी ली। गौरतलब है कि बुधवार 7 फरवरी को ईडी ने पूर्व मंत्री हरक सिंह,आईएफएस सुशांत पटनायक के आवास समेत उत्तराखंड, दिल्ली और हरियाणा के 17 स्थानों पर छापा मारा।

इधर, गुरुवार की सांय लगभग 5 बजे ईडी के आधिकारिक जानकारी में बताया गया कि बीरेंद्र सिंह कंडारी, बृज बिहारी शर्मा, किशन चंद और अन्य के मामले में पीएमएलए, 2002 के तहत गुरुवार को तलाशी अभियान चलाया । आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि तलाशी के दौरान 1.10 करोड़ (लगभग) नगद, 80 लाख मूल्य का 1.3 किलोग्राम सोना, विदेशी मुद्रा राशि रु. 10 लाख (लगभग), बैंक लॉकर, डिजिटल उपकरण, अचल संपत्तियों से संबंधित भारी दस्तावेज़ बरामद और जब्त किए गए। बीरेंद्र सिंह कंडारी पूर्व मंत्री हरक सिंह के स्टाफ में लम्बे समय तक रहे। जबकि डीएफओ किशन चन्द्र शर्मा जिम कार्बेट की पाखरो सफारी घोटाले में चर्चा में रहे। और आय से अधिक सम्पत्ति के मामले में जेल भी जा चुके हैं।

गौरतलब है कि बुधवार को ईडी ने पूर्व मंत्री हरक सिंह और आईएफएस सुशांत पटनायक के दून स्थित आवास पर छापेमारी की। यहां से भी करोड़ों रुपए, उपकरण व आवश्यक दस्तावेज बरामद किए गए। पटनायक के आवास पर तो नोट गिनने की दो मशीन भी मंगाई गई। जबकि हरक सिंह रावत के आवास से आवश्यक दस्तावेज बरामद किए। ईडी को तीन लाख से अधिक कैश भी मिला। लेकिन ईडी ने उसे जब्त नहीं किया। यह धनराशि मेडिकल कालेज से जुड़ी फीस बताई जा रही है। ईडी पूर्व मंत्री का मोबाइल फोन भी सील कर अपने साथ ले गयी। हरक , पटनायक,किशनचंद के अलावा कार्बेट पार्क घपले से जुड़े एक और आईएफएस के यहां भी छापा पड़ा।
बहरहाल, ईडी की ओर से पूर्व मंत्री हरक सिंह,आईएफएस सुशांत पटनायक समेत अन्य लोगों के यहां पड़े छापे की जानकारी को लेकर भी लोगों में उत्सुकता बनी हुई है।

हरक के करीबियों पर नजर
बुधवार को ईडी के छापे के बाद पूर्व मंत्री हरक सिंह से जुड़े लोगों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इनमें से कुछ खास लोगों पर अभी ईडी ने हाथ नहीं डाला। अधिकारियों व अन्य लोगों के नाम पर भी अचल संपत्ति होने की चर्चा है। दून में बीरेंद्र सिंह कंडारी के अलावा कुछ अन्य लोगों के नाम भी चर्चाओं में हैं। जो हरक सिंह से जुड़े रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि कम समय में अकूत सम्पत्ति जमा करने वाले अधिकारी व अन्य लोग ईडी के रडार पर हैं। जल्द ही इनके खिलाफ भी तलाशी अभियान चलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here