Home hindi प्रदेश प्रभारी के साथ हरीश रावत सहित वरिष्ठ नेताओं की बैठक – my uttarakhand news

प्रदेश प्रभारी के साथ हरीश रावत सहित वरिष्ठ नेताओं की बैठक – my uttarakhand news

0
प्रदेश प्रभारी के साथ हरीश रावत सहित वरिष्ठ नेताओं की बैठक –  my uttarakhand news

देहरादून,प्रदेश प्रभारी शैलजा कुमारी ने कांग्रेस केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक से पहले प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की। इस दौरान बैठक में हरीश रावत, करन माहरा, यशपाल आर्य और प्रीतम सिंह भी उपस्थित थे। पार्टी को उत्तराखंड की दो लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों का नामांकन करना होगा।
कांग्रेस ने गढ़वाल, टिहरी और अल्मोड़ा लोकसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। जबकि नैनीताल और हरिद्वार सीट पर प्रत्याशियों को लेकर बहस चल रही है। गढ़वाल से गणेश गोदियाल, टिहरी से जोत सिंह गुनसोला और अल्मोड़ा से प्रदीप टम्टा को चुनाव मैदान में उतारा गया है। इसमें पहली बार गोदियाल और गुनसोला लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। वहीं, टम्टा तीसरी बार चुनाव में भाग लेंगे।
गणेश गोदियाल ने गढ़वाल सीट पर दांव लगायाकांग्रेस ने केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में गहन चर्चा के बाद उत्तराखंड की पांच सीटों में से तीन पर प्रत्याशियों को नामांकित कर दिया था। कांग्रेस ने गढ़वाल सीट पर दो बार विधायक और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रहे गणेश गोदियाल को चुना है।
2002 और 2007 में मसूरी विधानसभा सीट से विधायक चुने गए जोत सिंह गुनसोला को पार्टी ने टिकट दिया। इस पद पर राजशाही का तिलिस्म तोड़ने की चुनौती उनके सामने है। प्रदीप टम्टा इस बार भी आरक्षित अल्मोड़ा सीट पर दांव लगाया है। टम्टा ने 2009 के लोकसभा चुनाव में इस सीट पर जीत हासिल की थी। जबकि वे 2014 और 2019 में चुनाव हार गए।
कांग्रेस प्रचार में असफल रहती हैकांग्रेस प्रचार में भाजपा से पीछे है। भाजपा के हरिद्वार संसदीय सीट के प्रत्याशी त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चुनाव प्रचार का नेतृत्व किया है। गढ़वाल संसदीय सीट पर अनिल बलूनी भी प्रचार में शामिल हो गए हैं, लेकिन कांग्रेस में हरिद्वार और नैनीताल के प्रत्याशियों के नामों पर एकमत नहीं है।
कई दावेदार होने से एक दूसरे से खींचतानआपसी खींचतान के कारण दोनों सीटों पर टिकट प्रतीक्षा में हैं। हरिद्वार सीट से पूर्व सीएम हरीश रावत अपने बेटे वीरेंद्र रावत के लिए टिकट मांग रहे हैं, लेकिन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा चाहते हैं कि हरीश रावत खुद चुनाव लड़ें या उन्हें मौका दिया जाए। नैनीताल में कई दावेदार होने से आपसी खींचतान चल रही है।
यहीं से यशपाल आर्य, भुवन कापड़ी, महेंद्र पाल, रणजीत रावत और प्रकाश जोशी के नामों की चर्चा होती है। यशपाल आर्य के नाम पर इन नामों में लगभग सहमति है, लेकिन आर्य चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं बताए जा रहे हैं। हालाँकि, नैनीताल-ऊधम सिंह नगर सीट के जातीय समीकरण के कारण आर्य को पार्टी का एक बड़ा वर्ग मजबूत प्रत्याशी मानता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here