Home hindi लोकसभा चुनाव के बीच Election Commission की बहुत बड़ी कार्रवाई, हटाए गए यूपी और उत्तराखंड के गृह सचिव – myuttarakhandnews.com

लोकसभा चुनाव के बीच Election Commission की बहुत बड़ी कार्रवाई, हटाए गए यूपी और उत्तराखंड के गृह सचिव – myuttarakhandnews.com

0
लोकसभा चुनाव के बीच Election Commission की बहुत बड़ी कार्रवाई, हटाए गए यूपी और उत्तराखंड के गृह सचिव –  myuttarakhandnews.com

Latest posts by Sapna Rani (see all)Election Commission of India Action: लोकसभा चुनाव की तारीखों के एलान के बाद भारत निर्वाचन आयोग ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के गृह सचिव को हटाने के आदेश दिए हैं. यह दावा सूत्रों ने किया है. समाचार एजेंसी ANI के अनुसार सूत्रों का दावा है कि यूपी और उत्तराखंड के गृह सचिव हटाए गए हैं. बता दें यूपी में संजय प्रसाद गृह सचिव थे , वहीं उत्तराखंड में शैलेश बगौली यह जिम्मेदारी संभाल रहे थे. संजय प्रसाद की बात करें तो वह साल 2022 के सितंबर से यूपी के प्रमुख गृह सचिव पद की जिम्मेदारी संभाल रहे थे.भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)के 1995 बैच के अधिकारी संजय प्रसाद को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का करीबी अधिकारी माना जाता है.वो 1999 और 2001 के बीच गोरखपुर में मुख्य विकास अधिकारी के पद पर तैनात थे.गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जिला है.जिलाधिकारी के रूप में संजय प्रसाद की पहली नियुक्ति लखीमपुर खीरी जिले में हुई थी. वो वहां करीब तीन महीने तक तैनात रहे थे. वो महाराजगंज, अयोध्या, फैजाबाद, आगरा, बहराइच, गाजीपुर और प्रयागराज के डीएम के रूप में भी काम कर चुके हैं.कौन हैं संजय प्रसाद?संजय प्रसाद उत्तर प्रदेश के सबसे मजबूत आईएएस अफसर में से एक हैं. इस वक्त उनके पास प्रमुख सचिव गृह , प्रमुख सचिव सूचना के साथ प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री की भी जिम्मेदारी थी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिछले कार्यकाल में संजय प्रसाद मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव के साथ चीफ मिनिस्टर दफ्तर की जिम्मेदारी को देख रहे थे. संजय प्रसाद 1995 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं.चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल के डीजीपी सहित नौकरशाहों के बड़े पैमाने पर तबादलों का आदेश देने पर कहा सपा नेता फखरुल हसन चांद ने कहा कि ‘चुनाव आयोग स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से चुनाव कराना चाहता है. उसने छह राज्यों के मुख्य सचिवों को हटा दिया है; वह अपना काम कर रहा है. समाजवादी पार्टी चाहती है कि लोकसभा चुनाव निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से हों.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here